Truth Behind New ₹2000 Indian Currency

Truth Behind New ₹2000 Indian Currency

2000 के नए नोटों में सरकार की बड़ी वाली चूक का वायरल सच। 
कुछ लोगों को भ्रम है ओर लोग ये अफ़वाह फ़ेल रहें हैं कि दो हज़ार के नोट मे प्रिंटिंग त्रुटि हुई है।

 

अब हम आपको बताते हैं कि असल माजरा क्या है। दरअसल, एक नोट पर 17 भाषाएं होती हैं। नोट के सामने की तरफ हिंदी अंग्रेजी में मूल्य लिखे होते हैं। बाकी पीछे 15 भाषाओं में लिखा होता है, जो असमिया, बंगाली, गुजराती, कन्नड़, कश्मीरी, कोंकणी, मलयालम, मराठी, नेपाली, ओडिय़ा, पंजाबी, संस्कृत, तमिल, तेलगू और उर्दू में होती हैं। तो जिस दोन हजार रुपए को लेकर सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाकर लोगों को डराया जा रहा है वो दरअसल कोंकणी का शब्द है, उसे वैसे ही लिखा जाएगा जैसा लिखा है। उसमें कोई गलती नहीं है। कोई गड़बड़ी नहीं है। कोई मिसप्रिंट नहीं है। इसलिए आपके नोट को कुछ नहीं होगा।

 

 

इसकी पुष्टि के लिए हमने दो रुपए के नोट को गोर से देखा ओर पाया की उसमें भी दोन मुद्रित है ।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nine + 1 =